नेतृत्व

निदेशकमंडल:

  • श्रीश्रीएस。सोमैयाअध्यक्षएवंप्रबंधनिदेशक

    श्रीसमीरसोमैया1 99 2मेंकेमिकलइंजीनियरिंगमेंमास्टर्सकेसाथकॉर्नेलविश्वविद्यालयसेस्नातकहुए。उन्होंने199 3मेंकॉर्नेलविश्वविद्यालयसेऔरऔरमेंहार्वर्डयूनिवर्सिटीसेपब्लिकमेंमास्टर्सप्राप्तकि。उन्होंनेशैक्षिकसफलताकेलिये1 99 8मेंअमेरिकनइंस्टीट्यूटऑफकेमिकलकाऔर1 99 0मेंअमेरिकनइंस्टीट्यूटऑफकाकाप्राप्तकिया。

    आगेपढीए

    १९९३ में समीर गोदावरी बायोरिफायनरीज लिमिटेड में शामिल हो गए। उन्होंने अनुसंधान और नवाचार द्वारा समर्थित आर्थिक, सामाजिक और पर्यावरणीय स्थिरता पर ध्यान केंद्रित करके कंपनी को आगे बढाया है।

    

    यहाँ35हजारछात्रऔर1,300शिक्षकहै。यहांपर500बिस्तरोंवालाअर्बनटिचिंगऔर40बिस्तरोंवालाग्रामीणरुग्णालयभीमौजूद。ट्रस्टसंयुक्तरूपसे8स्कूलचलातेहैं,जिनमेंसे6ग्रामीणमहाराष्ट्रऔरकर्नाटकमेंहैं。

    श्री。समीर सोमैया सोमैया विद्याविहार के अध्यक्ष हैं, के. जे. सोमैया ट्रस्ट, के, जे, सोमैया मेडिकल ट्रस्ट, के. जे. सोमैया इंस्टिट्यूट ऑफ़ अप्लाइड एग्रीकल्चर रिसर्च और गिरिव्न्वासी प्रगति मंडल के चेअरमन है।

    कॉर्नेल विश्वविद्यालय में केमिकल इंजीनियरिंग स्कूल में विज़िटिंग प्रशिक्षक के रूप में, उन्होंने केमिस्ट्री और शिक्षा के बारे में अपना प्यार इनका अच्छा संयोग बनाया है । उन्होंने भारत में चीनी और केमिकल उद्योग में सक्रिय भूमिका निभाई है। २००६-२००८ तक वह भारतीय केमिकल काउंसिल के अध्यक्ष (पश्चिमी क्षेत्र) और २००९ में इंडियन शुगर मिल्स एसोसिएशन के अध्यक्ष थे।

    

  • श्रीएसएनबबलेश्वरकार्यसंचालक

    चीनीचीनीप्रौद्योगिकीऔरस्नातकोत्तरस्नातकोत्तरमेंशुगरमेंस्नातकश्रीश्रीटेक्नोलॉजीमेंस्नातकश्रीएनएनबबलेश्वरकोलकाताकेजादवपुरविश्वविद्यालयकेकेमिकलइंजीनियरिंगसंस्थानकेएकसहयोगीसदस्य

    आगेपढीए

    श्री एस. एन. बबलेश्वर ने ४० साल पहले कंपनी के साथ अपनि साझेदारी शुरू की। समीरवाड़ी में लैब केमिस्ट के रूप में काम की शुरुवात करते हुए आज वे निदेशक (वर्क्स) के पद तक पहुंच गए है। अपने अनुभव और विशेषज्ञता के माध्यम से उन्होंने जो भूमिका ली है, उसमें उन्होंने योगदान दिया है।

  • डॉ。बी。बरवलेकार्यकारीनिदेशक

    महाराष्ट्र हाइब्रिड सीड्स कंपनी लिमिटेड (महिको) के अध्यक्ष डॉ. बी.आर. बरवले को एक दूरदर्शी, प्रमुख उद्यमी, परोपकारी और शिक्षाविद के रूप में जाना जाता है। एक कृषि परिवार की पृष्ठभूमिवाले डॉ. बरवले के इस क्षेत्र में और देश के विकास में योगदान करने के लिए के जुनून ने वर्षों से अपने काम को काफी हद तक परिभाषित किया है। उन्हें भारतीय बीज उद्योग के जनक के रूप में जाना जाता है और कृषि उद्योग में उनके योगदान के लिए उन्हें कई पुरस्कार प्राप्त हुए हैं, जिसमें १९९८ में वर्ल्ड फूड प्राइज फाउंडेशन द्वारा १२ वीं विश्व खाद्य पुरस्कार और बीज उद्योग के लिए अंतरराष्ट्रीय शीर्ष संस्था फेडरेशन इंटरनेशनल सीड्समेन (एफआईएस) के लिए मानद जीवन सदस्यता ऐसे सन्मानो का समावेश है ।

    आगेपढीए

    मार्च2001मेंडॉ。उन्होंनेउन्होंनेअपनेकरियरकेदौरानमाईजर्नीविदसीड्सएंडदडेवलपमेंटऑफदइंडियनसीडइंडस्ट्रीइंडस्ट्रीइंडस्ट्रीऔरऔरभूमिपुत्रयहयहदोदोपुस्तकेंलिखी

  • श्री。उदयगर्गइन्वेस्टर नामांकित निदेशक

    श्री उदय गर्ग मार्च, २०१५ से मंडल कैपिटल एजी लिमिटेड का प्रतिनिधित्व करते हुए कंपनी के निवेदक निमनी निदेशक रहे हैं। श्री गर्ग, एक निजी इक्विटी फंड मैनेजर मंडाला कैपिटल के संस्थापक हैं, और 2008 में स्थापना के समय से ही उन्होंने प्रबंध निदेशक के रूप में कार्य किया है। पहले, वह युगल समूह, अल्टीमा पार्टनर्स और गवाही सलाहकारों के पोर्टफोलियो प्रबंधक थे , और उनके कैरियर की शुरुआत डोशे बैंक के साथ एक निवेश बैंकर के रूप में हुई। श्री गर्ग सिल्वेनिया विश्वविद्यालय में व्हार्टन स्कूल ऑफ बिजनेस से अर्थशास्त्र में स्नातक है।

    आगेपढीए

    श्रीगर्गभारतकेबरवलेपरिवारकेसदस्यहैं,जोभारतकेसबसेसफलकृषिव्यवसायऔरदेशकेसबसेबड़ेबिजव्यवसायमहिकोकेसंस्थापकऔर50सालतकइसउद्योगकेसंचलनकर्ताहै。

  • श्री विनय जोशीकार्यकारीनिदेशक - गोदावरीबायोरिफ़नीरीजलिमिटेड

    वहचीनी,इथनॉल,केमिकल्स,फूडप्रोसेसिंग,पावरपावरऔरबुकपब्लिशिंगसहितविभिन्नउद्योगोंजुड़ेहुएहैंहैंविभिन्नविभिन्नक्षमताओंक्षमताओंमेंअधिकवर्षोंकेलिएसोमैयासोमैयाग्रुपऑफसाथसाथहुआहुआहुआसाथसाथहुआहुआहुआऑफसाथसाथजुड़ाहुआहुआ

    आगेपढीए

    श्रीविनयजोशी2साल(2016और2017)केलिएदक्षिणभारतीयचीनीमिल्स - कर्नाटक(एसआयएसएमए-के)केकेथे。

    वहइंडियनशुगरएसोसिएशन(आईएसएमए)केएकसमितिसदस्यहैंऔरउद्योग(सीआईआई)केमहाराष्ट्रवित्तऔरकराधानकेसदस्यहैंकराधानपैनलभीभीहैं。

    श्री विनय जोशी ने चीनी, इथेनॉल, और इथेनॉल आधारित रसायनों के क्षेत्रों में विलय, एकीकरण और अधिग्रहण के प्रस्तावों को सफलतापूर्वक प्रबंधित किया है।

    

  • श्री एस मोहनकार्यकारीनिदेशक

    मद्रासविश्वविद्यालयसेएप्लाइडसाइंसमेंस्नातकश्रीएसमोहनकोअल्कोहलऔरअल्कोहलआधारितरासायनिकउद्योगोंमें35सेअधिकवर्षोंकाअनुभवहै。वह2010केपेंटोकीऑर्गेनीइंडियालिमिटेडनिदेशक(वर्क्स)हैंहैंसाखरवाडी,गोदावरीबायोरिफ़नीरीजलिमिटेडमेंभीनिदेशक。

  • श्रीकैलाशपरशादस्वतंत्र निदेशक

    श्रीकैलाशपरशादजोवित्त,विपणनऔरप्रबंधनमें40वर्षोंकेअनुभवप्राप्तअभियंताहै。वहवहकंपनीकेसलाहकारऔरकंसलटेंटऔर,आईडीबीआईऔरयूटीआईकेनामांकितनिदेशक。

  • डॉ。के。वी。राघवनस्वतंत्र निदेशक

    डॉ。के。वी。राघवन,भारतीयभारतीयराष्ट्रीयएकेडमीऑफ(आईएनएई)केउपाध्यक्ष(शैक्षणिकएवंअंतर्राष्ट्रीयसहयोग)औरएशियाईजैवप्रौद्योगिकीफेडरेशन(एफएबीए)केकेहैं。डॉ。के。विकासविकासकीसर्वोच्चसमितिसमितिकेसदस्य

    आगेपढीए

    नेशनलएकेडमीऑफइंजीनियरिंग,इंडियनइंस्टीट्यूटऑफकेमिकलइंजीनियर्स(आईआईसीएचई)औरऔर。एकेडमीऑफसाइंसेजऔरयूनिवर्सिटीऑफग्रांट्सकमीशन(यूजीसी)केएकफैलोरहचुकेराघवनने120सेअधिकप्रबंधप्रकाशितकिए,45पेटेंटदायरकियेऔर3पुस्तकोंकासंपादनकिया。

    उन्होंने १९६४ में उस्मानिया विश्वविद्यालय से बी.टेक पूरा किया। उसके बाद उन्होंने भारतीय प्रौद्योगिकी संस्थान (आईआईटी), मद्रास से एमएस और पीएचडी अर्जित की। वह १९६४ में सीएसआईआर सेवा में शामिल हुए और मई २००४ में रक्षा मंत्रालय, भारत सरकार के डीआरडीओ के भर्ती और आकलन केंद्र के अध्यक्ष के रूप में उन्हें नियुक्त किया गया।

    00वेवेइंडियनइंस्टिट्यूटऑफ़ऑफ़केमिकलऔरऔरएऔरएएऔरऔर。अकेडमीऑफ़सायन्सेसकेपूर्वथेथे。

  • डॉ。प्रीतीरावतअकार्यकारी निदेशक

    डॉ。प्रीतीएस。रावतके。सोमैयासोमैयाइंस्टीट्यूटऑफमैनेजमेंटस्टडीजस्टडीज(एसआईएमएसआर)मेंप्रोफेसर(ओबी/एचआरएम)हैं。。वहのप्रबंधनकेलिएकार्यकोऔरअलगअलगभारतीयविश्वविद्यालयोंमेंप्रबंधनकेलिएडॉक्टरेट(पीएचडी)

    आगेपढीए

    वह 'बिज़नेस पर्सपेक्टिव्स एंड रिसर्च' के संपादक हैं, जो कि एसआईजीएसआर के अंतर्राष्ट्रीय प्रबंधन पत्रिका सेज प्रकाशन द्वारा प्रकाशित होता है। डॉ रावत ने कई राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय पत्रिकाओं में अपने काम को प्रकाशित किया है और कई अंतर्राष्ट्रीय सम्मेलनों में भाग लिया है। उन्होंने 'कार्यस्थल सशक्तिकरण' पर एक पुस्तक भी लिखी है उनका अनुसंधान हित नेतृत्व, सशक्तीकरण और विविधता है वह जूनियर, मध्यम और वरिष्ठ प्रबंधन के लिए व्यवहार प्रशिक्षण कार्यक्रम प्रदान करके उद्योग के साथ जुड़ा हुआ है।

  • डॉ。पॉलझोर्नेरअकार्यकारी निदेशक

    डॉ。पॉलपॉलज़ोर्नरकोलोराडोस्टेटयूनिवर्सिटीसेवनस्पतिविज्ञानऔरप्लांटपैथोलॉजीमेंमें..हैं,जहांउन्होंनेशुष्कभूमिकृषिकेलिएफसलप्रणालियोंकेविकासपरकामकिया。

    आगेपढीए

    डॉ。पॉलज़ोर्नरबायोमाससेउत्पन्नकियेजानेवालेअक्षयईंधन,रसायनऔरअन्यउच्चमूल्यवालीबायोमैटिरियल्सकेउत्पादनमेंशामिलकईकंपनियोंऔरउद्यमकंपनियोंकेलिएएकनिदेशकयावरिष्ठसलाहकारकेरूपमेंकार्यकरतेहैं。उनकेउत्पादन,इंजीनियरिंग,कारखानेकेसंचालन,पौधेपौधेकीकिस्त्रीचयनऔरआगेप्रौद्योगिकीलाइसेंसिंगऔर,सरकारीसरकारी,नीति,बंदकरारोंऔरस्थिरतारणनीतियोंव्यापारकेविकासविकासमेंमेंऔरउद्योगोंमेंव्यापकअंतरराष्ट्रीयअनुभवअनुभवऔरविशेषज्ञता。डॉ。पॉलकृषि,रसायनऔरअक्षयऊर्जाकेमेंशुरूआतीऔरफॉर्च्यून500कंपनियोंकेसाथवैज्ञानिकविकास,संचालनऔरवरिष्ठप्रशासनिकमेंमेंसमृद्धरखतेहै。

    डॉडॉपॉलअमेरिकाकेकेवीडविज्ञानकेएकफेलोफेलोसोसायटीकेएकफेलोवह35सेअधिकअमेरिकीपेटेंटकेहैंहैं。क्वींसलैंड,ऑस्ट्रेलियाऑस्ट्रेलियासरकारद्वाराक्वींसलैंडक्वींसलैंडकेरूपमेंउनकोउनको

  • श्री。जयेंद्र शाहस्वतंत्र निदेशक

    श्रीजयंताशाहमुंबईविश्वविद्यालयकला(अर्थशास्त्र)

    आगेपढीए

    00

    00

  • प्रो。एम。लक्ष्मीकंटमस्वतंत्र निदेशक

    प्रो。लक्ष्मीकंटमकेमिकलइंजीनियरिंगविभाग,ग्रीनकेमिस्ट्री और कैलिफोर्निया के रसायन विज्ञान संस्थान, इंस्टीट्यूट ऑफ केमिकल टेक्नोलॉजी, माटुंगा, मुंबई -४०००१९, भारत. की डॉ. बी.पी. गोदरेज प्रतिष्ठित प्रोफेसर है। रसायन उद्योग के लिए अभिनव हरे और आर्थिक प्रक्रियाओं के लिए उत्प्रेरक के अनुसंधान, डिजाइन और विकास में उनके ३३ वर्ष का अनुभव है।

    आगेपढीए

    इससेपहले,उन्होंनेसीएसआईआर-आईआईसीटी,हैदराबादमेंनिदेशककेरूपमेंकार्यकिया。उन्होंने332सेअधिकप्रकाशन,42पेटेंटऔरपांचपुस्तकअध्यायोंकीरचनाहै。वहतेज़पुरसेंट्रलयूनिवर्सिटी,तेजपुर,आसामऔरआरएमआईटीविश्वविद्यालय,मेलबोर्न,ऑस्ट्रेलियामेंसहायकप्रोफेसरहैं。वहभारतीयराष्ट्रीयराष्ट्रीयविज्ञानअकादमीअकादमीनेशनलएकेडमीऑफसाइंसेजसाइंसेजकीएकसाथी